धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) भाषण – Thank You Speech In Hindi

0

दोस्तों आजके इस पोस्ट में हम आपके साथ धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) पर भाषण dhanyavad speech in hindi, abhar speech in hindi, thank you speech for award ceremony, birthday, teacher and webinar in hindi, धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) भाषण – Thank You Speech In Hindi! share करिंगे।

किसी कंपनी संस्था या किसी समूह के साथ काम करने के बाद एक समय ऐसा आता है जब हमें वह स्थान छोड़ना पड़ता है  तो ऐसे समय में अपने साथी मित्रों, कर्मचारियों तथा उन सभी लोगों को धन्यवाद व्यक्त करने का मन होता है जिन्होंने हमारी सहायता कर आगे बढ़ने में मदद की हो।

इसलिए अक्सर अपनी फेयरवेल स्पीच में या फिर सेवानिवृत्त के विदाई समारोह में अपने भाषण में लोग थैंक्यू स्पीच को शामिल कर उस प्रत्येक व्यक्ति के लिए धन्यवाद व्यक्त करते हैं, जिसने उन्हें जीवन में आगे बढ़ने मैं मदद की हो या फिर प्रेरणा दी हो। तो अगर आप भी किसी संस्था या कंपनी से विदाई ले रहे हैं और इस मौके पर एक थैंक यू स्पीच देना चाहते हैं।


तो इस लेख में हम आपको कुछ थैंक यू स्पीच (Thank You Speech In Hindi) उपलब्ध करा रहे हैं, आप इनमें से किसी भी स्पीच का उपयोग अपनी आवश्यकता के अनुरूप कर सकते हैं।

धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) भाषण – Thank You Speech In Hindi

धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) भाषण - Thank You Speech In Hindi

वोट ऑफ़ थैंक्स भाषण – Vote of Thanks Speech in Hindi

आदरणीय बोर्ड निदेशक, प्रिय दोषों और सहयोगियों जैसा की आप सभी को ज्ञात हैं आज इस कंपनी में मेरा अंतिम दिन है, पदोन्नति के कारण मुझे कंपनी की दूसरी साखा में कार्य करने हेतु विदेश जाना पड़ रहा है। लेकिन इस कंपनी में 12 वर्षों तक कार्य करते हुए जो मुकाम मैंने हासिल किया उसका श्रेय मैं खुद को ही नहीं बल्कि इस कंपनी के प्रत्येक उस सदस्य को देता हूं। जिन्होंने मुझे कभी ना कभी किसी अवसर पर मेरी सहायता की या मुझे बेहतर करने के लिए सुझाव दिया।

इन वर्षों में मैंने अपनी प्रोफाइल के आधार पर विभिन्न लोगों के साथ काम किया, उनसे मुझे काफी कुछ सीखने को मिला। मेरे सहयोगी मिस्टर सुनील मुझे अक्सर, मेरे कार्य को और बेहतर करने के टिप्स देते थे जिस वजह से मै अधिक प्रोडक्टिविटी के साथ काम कर सका। लंच के समय अक्सर जब हम काम को लेकर थोड़ा सा गंभीर होते और सिर भारी भारी लगता था। मुझे याद है उस समय ग्रुप में से मिस्टर राजेश कोई मजेदार किस्सा सुना कर न सिर्फ हमारा मूड ऑन कर देते थे बल्कि पॉजिटिविटी भी भर देते थे।

इन वर्षों के दौरान कई बार अनेक प्रोजेक्ट्स पर काम करते हुए मेरा कई मुश्किलों, चुनौतियों से सामना हुआ। परंतु जब भी कोई मुश्किल आती और मैं थोड़ा सा विचलित होता तो मेरे साथी सहयोगी मुझे हौसला देने और अन्य कर्मचारी मेरी सहायता करने के लिए प्रेरित होते थे। सच कहूं तो कंपनी का प्रत्येक सदस्य हमारी कंपनी में जिस इमानदारी और कर्तव्य निष्ठा के साथ कार्य करता है। उसका यह परिणाम है कि आज कंपनी श्रेष्ठ कंपनियों में अपना स्थान पाने में कामयाब रही है। किसी भी नए कर्मचारी के लिए इस माहौल में काम करना अत्यंत लाभदाई होता है। सच में ऐसा माहौल शायद ही मुझे कंपनी की किसी अन्य शाखा पर मिले!

अतः सदा इस कंपनी में बिताए गए पल मेरे दिल के करीब होंगे। जीवन के इतने वर्षों में मैंने इस कंपनी से जुड़कर कुछ ऐसी चीजें सीखी जो अनमोल है और शायद ही मै उन्हें कहीं सीख पाता, जैसे टीम के साथ काम करना, समय से अपने कार्यों को पूरा करना तथा कठिन प्रोजेक्ट्स पर काम करते हुए एक दूसरे को मोटिवेट करना ताकि बेहतर परिणाम सामने आए। और यही चीजें मुझे आगे विदेश में एक बेहतर कर्मचारी बनने में मेरी मदद करेंगी।

आप अपने जीवन मे तरक्की करते रहें और इस कंपनी की सफलता में अपनी भूमिका निभाए, यही मेरी ईश्वर से कामना है जीवन के सफर में मेरा साथ देने के लिए और मिलकर काम करने के लिए एक बार फिर से आपका तहे दिल से शुक्रिया कर मै इस भाषण को विराम देना चाहूंगा।

फेयरवेल के मौके पर छात्रों का शिक्षकों को धन्यवाद भाषण

आदरणीय प्रधानाचार्य जी, यहां उपस्थित सभी अध्यापक, अध्यापिकाओं तथा प्रिय छात्रों को मेरा नमस्कार!

जैसा कि आपको ज्ञात हैं आज हम यहां फेयरवेल मनाने के लिए उपस्थित है। अतः इस  मंच से मै धन्यवाद करना चाहूंगा उन आयोजकों और अपने क्लास टीचर्स का जिन्होंने मुझे फेयरवेल के मौके पर कुछ शब्द कहने का मौका दिया। मुझे याद है मै इस स्कूल में दूसरी कक्षा से पढ़ रहा हूं, और आज हम स्कूली जीवन के अंतिम दिनों में प्रवेश कर चुके हैं।

इतने सालों में यह सब टीचर्स के सिखाने की लगन, उनके आशीर्वाद का परिणाम है कि हम वह ज्ञान हासिल कर चुके हैं जिससे हम आने वाले सालों में अपने बेहतर भविष्य का निर्माण कर सकें। मुझे याद है जब हम छोटी कक्षा में थे तो हमें शोर न मचाने,  कविताएं याद करने के लिए कहा जाता था। आएं आज समय यह है कि  हमारी कक्षा विद्यालय की सबसे सीनियर क्लास है।।

इतने वर्षों में विद्यालय से हमें काफी कुछ सीखने को मिला है, न सिर्फ किताबी शिक्षा बल्कि हमारे बेहतर भविष्य हेतु शिक्षक हमें समय का महत्व, अनुशासन, उदारता जैसे गुण सिखाते हैं जो आजीवन हमारे काम आते हैं। स्कूल के इतने वर्षों में कई बार हमें कार्य पूरा न करने, याद न करने के लिए डांट फटकार मिली। जिससे कई बार यह भी महसूस हुआ कि आखिर टीचर इतने स्ट्रिक्ट होते क्यों है? वे क्यों हमें इतनी बोरिंग चीज़ याद करने को कहते है! लेकिन सच कहूं तो आज महसूस होता है कि अगर आप ऐसा नहीं करते, तो आज हम वह नहीं बन पाते जो आज हैं। और वह सोच हमारे अंदर विकसित नहीं हो पाती जिससे हम आगे बढ़ सकते थे।

यही कारण है कि किसी ने सच ही कहा है कि माता पिता और गुरु की डांट सदैव इंसान की भलाई के लिए होती है। मुझे याद है गणित के प्रश्नों को और विज्ञान कि सिद्धातों को समझते समझते जब कभी हमारा दिमाग घूम जाता तब आप ही हमें उस टॉपिक को समझने में हमारी सहायता करते, हमें चाहे कोई टॉपिक एक बार समझ में नहीं आए, पर फिर भी आप बार-बार हमें समझते ताकि आप जो समझाना चाह रहे हैं वह हमारे दिमाग में बैठ जाएं।

सच कहूं तो जिस तरह एक माता पिता अपने बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए उन्हें सीख देते हैं, उसी तरह आपने गुरु के रूप में हमारा मार्गदर्शन किया। स्कूल में रहकर गुरु से प्राप्त की गई शिक्षा का शब्दों में मैं जितना वर्णन करूं उतना कम है ।इसलिए मेरे जीवन में ज्ञान का प्रकाश फैलाने वाले उन सभी शिक्षकों को भक्त कबीर दास द्वारा कही गई 2 लाइनें समर्पित करना चाहूंगा।

सब धरती कागज करूँ,
लिखनी सब बनराय |
सात समुद्र की मसि करूँ,
गुरु गुण लिखा न जाय ||

अर्थात पूरी पृथ्वी को कागज और सभी जंगलों को कलम बनाकर सात समुंदर को यदि स्याही बना दिया जाए तो तब भी उस कागज में उनके गुणों को नहीं लिखा जा सकता। इसीलिए शास्त्रों में भी गुरु को भगवान से भी ऊंचा दर्जा दिया गया है। अतः स्कूल के अंतिम दिनों में मैं अपने और सभी सहपाठियों की तरफ से हमें इस स्कूल में शिक्षा देने वाले सभी शिक्षकों का दिल से धन्यवाद करना चाहेंगे।

इन्हीं अंतिम शब्दों के साथ मै फेयरवेल स्पीच को विराम देना चाहूंगा। मुझे आशा है यूं ही आपका आशीर्वाद हम सभी छात्रों पर बना रहेगा। जिसकी बदौलत हम जिंदगी में सफलता की सीढ़ियां चढ़ते रहेंगे धन्यवाद।

Dhanyavad Speech In Hindi

आज आपके समक्ष मै इस मंच में उपस्थित हूं आखिरी बार.. कहने और सुनने में वाकई यह शब्द थोड़ा सा दुख देता है लेकिन यह हकीकत है. क्योंकि आज आपका मुझे विदाई देने का अब समय आ चुका है। इतने वर्षों में हमने मिलकर अपने उद्देश्यों को पूरा करने के लिए जिस तरह काम किया वही टीम भावना मुझे आज इस मंच से आपके बारे में कुछ शब्द कहने के लिए प्रेरित करती है। आपने जिस तरह मेरी विदाई समारोह का आयोजन किया है। उसके लिए मैं आपका तहे दिल से शुक्रिया करता हूं।

और साथ-साथ इतने वर्षों में आपने जिस तरह एक दोस्त की तरह विभिन्न प्रोजेक्ट्स पर मिलकर काम किया उससे कभी प्रतीत हुआ ही नहीं कि मैं किसी कार्यालय में या किसी कंपनी में जॉब करता हूं। बीते 8 वर्षों में मैंने अपने कार्य क्षेत्र के अनुसार विभिन्न लोगों के साथ काम किया और हर बार अच्छी किस्मत यह थी कि मुझे प्रत्येक इंसान से अपने जीवन में कुछ ना कुछ बेहतर सीखने को मिला। इसलिए इन 8 वर्षों में बतौर सुपरवाइजर जो चीज़ें मैंने यहां सीखी, शायद ही मै कहीं और सीख पाता।

सच कहूं तो इस सब का श्रेय आप सभी को जाता है। जिन्होंने एक शख्स जो इस कंपनी में बतौर डाटा एंट्री ऑपरेटर आया था उसे सुपरवाइजर बनने के सफर में उसकी मदद की। आपकी अच्छे व्यवहार के कारण मुझे कई बार उन परिस्थितियों में भी अवकाश लेने में कोई दिक्कत नहीं आई थी जब उसकी सख्त जरूरत थी मेरी अनुपस्थिति में आपने जिस तरह मेरा यह कार्य जिम्मेदारी से पूरा किया वाकई प्रसंशनीय है। एक नई कंपनी और एक नई जगह पर जाने को मैं विविश हूं, ऐसी स्थिति मे आपको बस दिल से धन्यवाद कहने के अलावा कोई शब्द मेरे मुख से निकल नहीं रहे।

क्योंकि इस कार्यालय के प्रत्येक सदस्य के साथ बीते अच्छे दिनों की अच्छी यादें लेकर मैं जा रहा हूं। भले में कंपनी को छोड़कर जा रहा हूं लेकिन  यूं ही मेरे दिल में आप का विशेष स्थान रहेगा अंत में समय की कमी के कारण मैं इस अंतिम शाम को बस यही कहूंगा, मेरे साथ जुड़े रहने के लिए, मेरे जीवन में आकर इसे बेहतर बनाने के लिए आप सभी का धन्यवाद।


धन्यवाद भाषण – Abhar Pradarshan Speech In Hindi

यहां उपस्थित ABC लिमिटेड कम्पनी के सदस्यों को मेरा नमस्कार, जैसा कि आपको ज्ञात है हमारी कंपनी दुनिया की 100 शीर्ष कंपनियों में अपना स्थान पा चुकी है। अतः इस खास मौके पर मैं चंद शब्द कंपनी के उस प्रत्येक कर्मचारी, स्टाफ तथा उस सदस्य से के लिए कहूंगा जिनकी वजह से यह पॉसिबल हो पाया है।

साथियों आज से कुछ वर्ष पूर्व जब मैंने अपना यह ड्रीम बिजनेस शुरू किया तो मेरे मन में कहीं प्रश्न आते थे कि आखिर किस तरह कंपनी को मैं उस स्थान पर ले जाऊंगा जहां तक पहुंचने का मेरा ख्वाब है। आज क्योंकि यह वह मेरा ख्वाब हकीकत में बदल चुका है तो ऐसे मौके पर मैं उसका श्रेय कंपनी के प्रत्येक मेंबर को देता हूं। क्योंकि कंपनी की कामयाबी उसके कर्मठ कर्मचारियों में छुपी होती है। छोटी सी कंपनी से आज इस मुकाम तक पहुंचने का सफर मैं जानता हूं, ना मेरे लिए आसान था ना आपके लिए क्योंकि कई बार एक कर्मचारी के तौर पर आपके सामने भी कार्य करते हुए नई नई चुनौतियां आती हैं, जिन्हें पार करना कई बार अत्यंत कठिन प्रतीत होता है।

लेकिन मुझे खुशी है, विश्वास और लगातार मेहनत की बदौलत आपने बड़ी से बड़ी चुनौतियों को  हंसकर पार किया। और लगातार ग्राहकों की संतुष्टि को पहली प्राथमिकता दी। और मेरी बताई गई रणनीतियों का जिस प्रकार  आपने पालन किया है, वह वाकई काबिले तारीफ है। भले ही मै इस कंपनी का एक ऑनर हूं लेकिन जिस तरह एक बड़ी इमारत खड़ी करने के लिए मजबूत फाउंडेशन होना जरूरी है। उसी तरह इस कंपनी की नींव आपसे है।

एक बॉस के रूप में मुझे नहीं पता मेरा व्यवहार आपके साथ कैसा है? कई बार संभव है मुझसे कुछ गलतियां भी हुई होंगी? लेकिन चूंकि उन गलतियों के पीछे इस कंपनी की सफलता और आपकी सफलता छुपी हुई है। अतः जाने अनजाने में यदि किसी कंपनी के कर्मचारी को मेरे बर्ताव से बुरा लगा हो तो मै उन्हें सॉरी कहूंगा। इस विशेष मौके पर आज हम जश्न मनाने जेइए एक विशेष पार्टी ऑर्गेनाइज करने जा रहे हैं। आप इसे कम्पनी की और आपकी सफलता के लिए मेरी तरफ से दिया गया एक छोटा सा गिफ्ट कह सकते हैं, और मुझे आशा है आने वाले वर्षों में यह उपहार यूं ही आपकी जिंदगी में आते रहेंगे।

मुझे पूरी उम्मीद है जिस तरह आज तक कंपनी के प्रत्येक सदस्य ने जिस ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा से कार्य किया है वह यूं ही अपना कार्य आगे भी करते रहेंगे। और कंपनी को सफलता के शिखर तक लेकर जाएंगे। धन्यवाद।।

तो दोस्तों आशा करते है की अब आपको dhanyavad speech in hindi, abhar speech in hindi, thank you speech for award ceremony, birthday, teacher and webinar in hindi, धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) भाषण – Thank You Speech In Hindi! से जुड़ी पूरी जानकारी मिल चुकी होगी।


उम्मीद है की आपको धन्यवाद प्रस्ताव (वोट ऑफ थैंक्स) भाषण – Thank You Speech In Hindi! का यह पोस्ट पसंद आया होगा, और हेल्पफ़ुल लगा होगा।


आपको यह पोस्ट कैसा लगा नीचे कॉमेंट करके ज़रूर बताए, और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसको अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here